हस्तरेखा (Palmistry in Hindi)

“रेखाओं का खेल ही है मुकद्दर, रेखाओं से मात खा रहे हो”

बड़े-बुजुर्ग अकसर कहते हैं कि हमारी किस्मत हमारे हाथ में ही होती है। यह किस्मत हाथ की उन रेखाओं में भी समाई हुई है जो समय के साथ बदलती रहती हैं। हाथ की इन्हीं रेखाओं के अध्यन को हस्त रेखा (Hast Rekha) विज्ञान कहा जाता है।

हस्तरेखा (Palmistry in Hindi): हस्त रेखा विज्ञान बेहद प्राचीन है। प्राचीन वेदों में भी हाथ देखकर भविष्य की गणना करने के साक्ष्य मौजुद हैं। सबसे अधिक प्रभावी और विस्तृत रूप से हस्त रेखा विज्ञान (History of Palm Reading) का वर्णन सामुद्रिक शास्त्र में पाया गया है।

हाथ की रेखाएं (Palm Lines): हस्त रेखा शास्त्र में कई तरह की रेखाओं के महत्व को दर्शाया गया है लेकिन मुख्य रूप से सात रेखाओं (Main Palm Lines) को ही अहम स्थान दिया गया है। इन रेखाओं को पढ़ने के लिए विशेष ज्ञान की आवश्यकता होती है। आइए जानें इन रेखाओं के बारें में:

जीवन रेखा
विवाह रेखा
भाग्य रेखा
संतान रेखा
हृदय रेखा
मणिबंध रेखा
मस्तिष्क रेखा
सूर्य रेखा
हस्तरेखा देखने के नियम
pulkit khandelwal: